Uncategorized

भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

(1) पहली कमाई थारी पारखो पछे क्यूं पछताय।
मूळ गमायो इंयु मुरखे फेर चौरासी में जाय।।
भजन विचारो भव रा भावियो जग रा जोगियों साँचा सोमियो

(2) पांच जणो रो गढ़ पारखो ओळे ओळे उबा हरि आप।
सतगुरु खोलै खैलता ज्योरे बाहेर फिरे रे बलाय।।
भजन….. भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

(3) बोदी वाड़ पलास री पग दिया जुर जाय।
नुगरा ने समझावतो पत सुगरा री जाय।।
भजन….  

(4) बेड़ो जतनो से बोदिये दूर तक झेलेला भार।
भीड़ पड़े बिछड़े नही सायब रा सचियार।।
भजन….  भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

(5) टेर गुरो री किणविध छोड़िये जबलग घट माही प्राण।

प्राण पिजरिया रे वेरो पड़े गुरुगम कही नही जाय।।
भजन….

(6) वकमो मारगियो गुरवा देव रो असल खोडा री धार।
निरख निरख पग मेलणो किणविध उतरो ला पार।।
भजन….

(7) नदी रे किनारे ऊबो रुखड़ो कदे हक होय रे विनाश।
पहला जड़े जणरा पोनड़ा मूळ समुल्लों ही जाय।।
भजन.…    भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

(8) सत धर्म जण दिन झेलियो ज्योने जगत भले वलमाय।
अण धर्म ने जतनो से राखिये सोहंग भजो रे मन माय।।
भजन…..

(9) मन समझावो थारे मोयलो शरण कंवल चितलाय।
बाबो डूंगरपुरी बोलिया ज्योने काल कदे नही खाय।।
भजन…. भजन विचारो भव रा भावियो lyrics

मुझे उम्मीद है मित्रों की यह Vaikhari Vani के भजन पद रचना आपको पसंद आई होगी अगर भजन पसंद आए तो कृपया लाइक करें कमेंट करें एवं अपने प्रिय दोस्तों में शेयर जरुर करें साथ-साथ अगर आप अन्य कवियों संतो के भजन पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक समरी पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं। धंयवाद!

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

मेरे प्रिये मित्रों से एक प्राथना है कि आप मेरे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें और अपना छोटा भाई समझ कर स्पोर्ट जरूर करें भजनों का चैनल है। 🔜 【 क्लिक करें

ज्यादा पढ़ने के लिए कृपया यहाँ नीचे समरी पर क्लिक करें 👇

(1) पेला पेला देवरे गजानंद सिमरो (2) मैं थाने सिमरु गजानंद देवा (3) सन्तो पूजो पांचोहि देवा (4) गणपत देव रे मनाता (5) मनावो साधो गवरी रो पुत्र गणेश (6) सन्तो मैं बाबा बहुरंगी (7) सन्तो अविगत लिखीयो ना जाई (8) अब मेरी सुरता भजन में लागी (9) अब हम गुरु गम आतम चीन्हा (10) काया ने सिणगार कोयलिया (11) मत कर भोली आत्मा (12) जोगीड़ा ने जादू कीन्हो रे (13) मुसाफिर मत ना भटके रे (14) गिगन में जाए खड़ी प्रश्न उत्तर वाणी (15) जिस मालिक ने सृष्टि रचाई (16) बर्तन जोये वस्तु वोरिए (17) गुरु देव कहे सुन चेला (18) संतो ज्ञान करो निर्मोही (19) मोक्स का पंथ है न्यारा (20) गुरुजी बिना सुता ने कूण जगावे (21) केसर रल गई गारा में (22) पार ब्रह्म का पार नहीं पाया (23) आयो आयो लाभ जन्म शुभ पायो (24) इण विध हालो गुरुमुखी (25) आज रे आनंद मारे सतगुरु आया पावणा (26) मारे घरे आजा संत मिजवान (27) गुरु समान दाता जग में है नहीं (28) बलिहारी गुरुदेव आपने बलिहारी (29) गुरु बिन घोर अंधेरा (30) भोली सी दुनिया सतगरु बिन कैसे सरिया31मोको कहां दूढेरे बन्दे Lyrics 32 चौसठ जोगनी भजन लिरिक्स 33 छैल चतुर रंग रसिया रे भवरा लिरिक्स 34 भजना मे जावा कोनी दे lyrics 35 अबके सतगुरु मोय जगायो lyrics 36 हट मत पकड़े पार्वती lyrics 37 khatu shyam bhajan lyrics in hindi 38 khatu shyam bhajan lyrics kanhiya mittal 39 अरज सुनो बनवारी भजन lyrics 40 krishna bhajan lyrics 41 हट मत पकड़े पार्वती lyrics 42 lekho levela rai rai bhajan lyrics  3 मस्तानी मालण भजन lyrics

bhaktigyans

My name is Sonu Patel i am from india i like write on spritual topic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page